Thursday, May 12, 2011

soya milk ...2 रु लीटर .....एक वरदान...... भारत जिस से अभी तक अछूता है ......

दोस्तों पिछले 15 दिन से पतंजलि योग पीठ हरिद्वार में हूँ .जैसा की सभी लोग जानते ही हैं .......बाबा रामदेव जी आज कल पूरे देश में भ्रष्टाचार के खिलाफ जन जागरण कर रहे हैं । 4 जून से दिल्ली में आमरण अनशन पर बैठने जा रहे हैं .....इसकी तैयारियां यहाँ मुख्यालय पर भी जोर शोर से चल रही हैं .इसके अतिरिक्त यहाँ और भी कई प्रकल्पों पर कार्य चल रहा है .....भारत स्वाभिमान है ......एक अन्य योजना ग्रामोत्थान है जिसके अंतर्गत प्रथम चरण में भारत के प्रत्येक प्रान्त से एक गाँव को आदर्श गाँव के रूप में विकसित किया जायेगा .....पूर्ण स्वावलंबी ...नशा मुक्त ......रोग मुक्त .......ग्रामोद्योग..... ऐसे बहुत से बिंदु हैं जिन पर कार्य चल रहा है .अभी प्रथम चरण में गाँव का चयन हो रहा है ........इस में एक बहुत अच्छी योजना soya milk के बारे में है ......सोया मिल्क यानि सोंया बीन से बना दूध ......आप सभी जानते हैं कि soya bean प्रोटीन का भण्डार होते हैं ...इसमें सभी खाद्य पदार्थों से ज्यादा ...44% प्रोटीन पाया जाता है ......वो भी cholestrol free ....इसका दूध बड़ी आसानी से घर पे बनाया जा सकता है .......
1) रात में एक कटोरी लगभग 100 ग्राम सोया बीन पानी में भिगो दें । (soya बीन की दाल लें ....soya बीन nutri nuggets ......बड़ियाँ.... नहीं )
2) सुबह उसे साफ़ करके किसी खुले बर्तन में, खुले पानी में 12 मिनट तक उबालें ।
3) 12 मिनट तक उबालने के बाद वो गरम पानी फेंक दें और सोया बीन को खुले पानी में 3-4 बार अच्छी तरह धो लें
4) अब इसे mixer grinder में पीस कर पतला पेस्ट बना लें .......पीसते समय ज़रुरत के अनुसार इसमें थोडा थोडा पानी डालते जाये।
5) अब इसमें डेढ़ लीटर पानी डाल कर पतला करें और मोटी छलनी से छान लें (आवश्यकतानुसार )
लीजिये आपका अत्यंत स्वादिस्ट और पौष्टिक सोया मिल्क तैयार है ......इसे आप कई तरह से पी सकते हैं ......जैसे
1) चीनी मिला के मीठा soy milk
2) नींबू नमक और पिसा हुआ भुना जीरा मिला के लस्सी flavour .....
3) सौंफ ,छोटी इलायची, कलि मिर्च इत्यादि साथ में पीस कर ठंडई flavour
4) चीनी और रूह अफज़ा ,ब्राह्मी इत्यादि मिला कर .....शरबत बना लें।
5) इसके साथ केले ,आम , चीकू ,आडू , आलू बुखारा इत्यादि फल मिला कर अलग अलग fruit shakes बना सकते हैं
सबसे मज़े दार बात यह है कि इस अत्यंत पौष्टिक और स्वादिष्ट दूध की कीमत घर में बनाने पर सिर्फ 2 या 4 रु लीटर पड़ती है ........हमारे देश में सोयाबीन प्रचुर मात्र में उगाया जाता है पर दुर्भाग्य से ये सारा सोयाबीन तेल निकालने में या पशु आहार के रूप में प्रयोग होता है .......अनाज मंडियों में ये 20 रु किलो बिकता है और फुटकर दुकानों में 25 से ले कर 40 रु तक .....
भारत जैसे देश में जहाँ आज भी बच्चे भुखमरी और कुपोषण के शिकार हैं , जहाँ आज भी आधी से ज्यादा आबादी को एक बूँद भी दूध नसीब नहीं होता ,सोया बीन के दूध को पूरे देश में प्रचारित करने की ज़रुरत है । गरीब से गरीब माँ भी अपनी झोपडी में ......2 रु खर्च कर ,सिल बट्टे पर पीस कर अपने बच्चों को पेट भर ये पौष्टिक दूध पिला सकती है .......ज़रुरत है सबको इसके बारे में बताने की .......सारे भारत मे इसे लोकप्रिय करने की ........मैं इस क्षेत्र में पिछले 4-5 साल से कार्य कर रहा हूँ ....अब पतंजलि योग पीठ ने इसे पूरे देश में घर घर तक पहुचाने का संकल्प लिया है ......आप सब से अनुरोध है की इसे एक बार अपने घर में try करें ....और लोगों को बना कर पिलायें ....... इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाएं ......इस में नए नए प्रयोग करें ......इसकी और अच्छी अच्छी recipe बनायें और अन्य लोगों के साथ share करें ........कोई ngo या समाज सेवी संस्था बना कर इसे झुग्गी झोपड़ियों ,गाँव के गरीब बच्चों को पिलायें। आज इसे एक जन आन्दोलन बना कर हर घर तक पहुंचाने की ज़रुरत है ......याद रखिये कुपोषण की समस्या सिर्फ गरीब लोगों में ही नहीं बल्कि गरीब, अमीर ,माध्यम वर्ग सबमे है .......
आप सबसे अनुरोध है की इस लेख को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुचायें ......
सोयाबीन से पनीर औए दही भी बनाई जाती है .......इसकी चर्चा अगले लेख में करूँगा ........तब तक soy milk को enjoy करें ।

5 comments:

  1. सोया बीन प्रोटीन का भण्डार होते हैं इसी लिए तो ज्यादातर पहलवान इसका सेवन कर के चेम्पियन बन रहे है पहलवान को सबसे ज्यादा प्रोटीन की ही जरूरत होती है !....................अजित जी आप तो एक तरह से सामाज के हर वर्ग को जाग्रत कर सामाज सेवा भी कर रहे है ! ....................मुझे मेरे भाई अजित पर गर्व है !

    ReplyDelete
  2. thanks kripa bhai .....aap ke jaisa mahaan sportsman isko aur zyada popular kar sakta hai .....thank you very much.
    ajit

    ReplyDelete
  3. मेरी शुभ कामनाएं

    ReplyDelete
  4. बढिया जानकारी दी है जी, धन्यवाद
    कोशिश करते हैं, बच्चों को स्वाद पसन्द आ जाये तो क्या कहने।

    प्रणाम

    ReplyDelete